Skip to main content

Posts

Showing posts from January, 2022

रीता बहुगुणा जोशी के बेटे की सपा में एंट्री!

 लखनऊ कैंट सीट से उम्मीदवारी का विवाद खत्म होता नजर नहीं आ रहा है। भारतीय जनता पार्टी में दर्जन भर उम्मीदवार इसी सीट से दावेदारी कर रहे हैं। वर्ष 2017 में यह सीट कांग्रेस से भाजपा के पाले में आई थी और इसकी वजह डॉ. रीता बहुगुणा जोशी का पंजा छोड़कर कमल का साथ देना था, जिससे इस महत्वपूर्ण सीट का गणित भी बदल गया। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में रीता बहुगुणा ने अपने बेटे मयंक के लिए इस सीट की खूब लॉबिंग की, लेकिन उन्हें सफलता मिलती नहीं दिख रही है। माना जा रहा था कि अब मयंक जोशी, भाजपा छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हो जाएंगे। लेकिन जहां, भाजपा ने समाजवादी पार्टी के शीर्ष नेता मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव को अपने पाले में लाने में सफलता पाई। वहीं, अब समाजवादी पार्टी भी मयंक जोशी को अपने पाले में लाकर जवाब देने के मूड में दिखाई दे रही है। सपा प्रवक्ता फखरुल चांद हसन ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म कू ऐप से जानकारी देते हुए कहा कि रीता बहुगुणा जोशी के पुत्र मयंक आज शाम समाजवादी पार्टी ज्वाइन कर सकते हैं। आज शाम 4 बजे समाजवादी पार्टी के लखनऊ के महत्वपूर्ण नेताओं को पार्टी दफ्तर बुला

*Prime Minister to Unveil 216-ft Statue of Equality in Hyderabad on February 5, 2022*

 • The 216-ft Statue of Equality commemorates Sri Ramanuja Acharya, an 11th century Bhakti saint - it is the world’s second tallest statue featuring a sitting posture • His Excellency, President Sri Ramnath Kovind Ji, will unveil the inner chamber 120 kg golden Ramanuja on February 13, 2022 India, January 20th, 2022: Honorable Prime Minister, Sri Narendra Modi Ji, will dedicate the Statue of Equality to the world on February 5, 2022. It is a 216-feet tall statue of Sri Ramanujacharya, an 11th century Bhakti saint, and a revolutionary social reformer. The 45-acre complex housing Statue of Equality is centered in Shamshabad, Hyderabad, Telangana. His Excellency, President Sri Ramnath Kovind Ji will unveil the inner chamber 120 kg golden Ramanuja on February 13, 2022.  These events along with a 1035 yaaga fire oblation – the largest in modern history - and spiritual activities such as mass manthra chanting are to be conducted as part of Sri Ramanuja Sahasrabdi ‘Samaroham’. It is to celeb