Skip to main content

मेट्रो कैश एंड कैरी इंडिया ने ‘डिजिटल शॉप’ ऐप के साथ किराना व्‍यवसाय को डिजिटल बनाने के लिए ईपेलेटर के साथ साझेदारी की

 



  • स्मार्टफोन की मदद से किराना व्‍यवसाय को तुरंत डिजिटल दुकान में बदलने का उद्देश्य

  • किसी भी अतिरिक्त निवेश के बिना, अपने स्मार्टफोन का उपयोग करके किराना व्‍यवसायी डिजिटल रूप से बिक्री को ट्रैक कर सकते हैं, इन्वेंट्री का प्रबंधन कर सकते हैं, ऑर्डर दे सकते हैं, ग्राहकों को डिजिटल भुगतान का विकल्प प्रदान कर सकते हैं

  • ईपेलेटर के माध्यम से, किराना व्‍यावसायी को अपनी व्यावसायिक आपूर्ति के लिए ब्याज मुक्त ऋण तक त्वरित पहुँच मिलेगी और बेहतर कार्यशील पूंजी का लाभ मिलेगा

  • यह पहल 'स्‍वतंत्र व्‍यापार के चैंपियन' बनने के मेट्रो के मिशन वक्‍तव्‍य को दोहराती है और इसका लक्ष्य किराना व्‍यवसायियों के लिए समान स्तर का व्‍यापारिक अवसर प्रदान करना है।


Digital-Shop-by-METRO and ePayLater


नई दिल्ली / बेंगलुरु, 6 अगस्त 2019: भारत के प्रमुख संगठित थोक व्यापारी और खाद्य विशेषज्ञ, मेट्रो कैश एंड कैरी ने आज एक और किफायती तथा टिकाऊ समाधान के साथ किराना व्‍यवसाय को डिजिटल बनाने और रूपांतरित करने के लिए फिनटेक के स्टार्ट-अप, ई-पेलेटर के साथ विशेष साझेदारी की घोषणा की। किराना डिजिटलीकरण कार्यक्रम के अगले चरण के अंतर्गत, ईपेलेटर के सहयोग से मेट्रो ने एक मोबाइल एप्लिकेशन, 'डिजिटल शॉप', का सह-निर्माण किया है, जो किराना मालिकों को अपने मौजूदा स्मार्टफोन को तुरंत बिना डिवाइस पर अतिरिक्त निवेश किये, अपने व्यवसाय के संचालन को डिजिटल बनाने में सक्षम बनाता है।


 


ईपेलेटर और मेट्रो द्वारा तैयार किया गया 'डिजिटल शॉप' छोटे खुदरा विक्रेताओं और किराना व्‍यावसायियों को उनके पारंपरिक तरीकों को उन्नत करके डिजिटल रूप से सशक्त बनाएंगे और उनके व्यवसाय को आधुनिक बनाकर प्रौद्योगिकी की शक्ति का लाभ उठाएंगे। इस ऐप को डाउनलोड करके, किराना व्‍यवसायी अपने दैनिक और मासिक बिक्री को डिजिटल रूप से ट्रैक कर सकते हैं; अपनी इन्‍वेंट्री का प्रबंधन कर सकते हैं; मेट्रो पर ऑर्डर दे सकते हैं, स्मार्टफोन का उपयोग करने वाले ग्राहकों को डिजिटल भुगतान का विकल्प प्रदान कर सकते हैं। 'डिजिटल शॉप' किराना व्‍यवसायियों को शून्य लेनदेन शुल्क प्रदान करता है; सभी ऐप्स से भुगतान स्वीकार करने के लिए सार्वभौमिक क्‍यूआर कोड देता है; और दैनिक तथा मासिक लेनदेन पर कोई शुल्‍क नहीं लगाता है। इसके अलावा, किराना व्‍यवसायी, 'डिजिटल शॉप' ऐप का उपयोग करके अपने ग्राहकों को क्रेडिट भी दे सकते हैं और ऐप पर कुछ क्लिकों के सहारे ब्याज-मुक्त व्यापार क्रेडिट तक की पहुंच प्राप्त कर सकते हैं। इससे किराना व्‍यवसायी को कार्यशील पूंजी को मुक्त करने में मदद मिलेगी, जिससे व्यापार को अधिक लाभप्रद बनाना आसान होगा।


 


यह ऐप किराना मालिकों को इन्वेंट्री खपत पैटर्न और तेज तथा धीमी गति से बिकने वाले उत्पादों की एनालिटिक्‍स भी प्रदान करेगा जो किराना व्‍यवसायी के उत्पाद मिश्रण का अनुकूलन करेंगे और अंततः उनके राजस्व और मार्जिन को बेहतर बनाने में मदद करेंगे। किराना व्‍यवसायी डिजिटल रूप से ग्राहकों के साथ जुड़ने और अनुकूलित ऑफर देने में सक्षम होंगे, जो उनके पक्के ग्राहकों को खरीदारी के लिए रु 25,000 तक की तत्‍काल क्रेडिट प्रदान करने में सक्षम बनायेगा और अन्‍य सेवाओं के साथ, यूटिलिटी और बिल भुगतान जैसी अतिरिक्त सेवाओं की पेशकश करके अपने राजस्व को बढ़ाने में सक्षम करेगा।


 


इस व्‍यावसायिक गठबंधन पर टिप्पणी करते हुए, श्री अरविन्द मेदिरत्ता, एमडी और सीईओ, मेट्रो कैश एंड कैरी इंडिया, ने कहा कि किराना व्‍यवसायी भारत के उपभोग क्षेत्र की रीढ़ हैं और रोजगार के अवसर पैदा करने और अर्थव्यवस्था के लिए मूल्य सृजन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। डिजिटल शॉप ऐप के माध्यम से, हमारा उद्देश्य पारंपरिक किराना दुकानों को सभी चैनलों वाले स्टोर में बदलना है। चाहे वह व्यवसाय के लिए आसान ऋण समाधान हो; संपूर्ण डिजिटल अनुभव हो; व्यापार बढ़ाने के लिए डेटा एनालिटिक्स हो; या प्रतिस्पर्धी मूल्य उत्पाद पोर्टफोलियो की पेशकश हो; हम बिना किसी अतिरिक्त लागत के एक ही ऐप में यह सब एक साथ उपलब्‍ध कराते हैं। छोटे खुदरा विक्रेताओं और दुकानदारों को डिजिटल करने के लिए डिजिटल शॉप पहल भारत सरकार द्वारा दिये जा रहे प्रोत्‍साहन से जुड़ा हुआ है, और ईपेलेटर के साथ इस व्‍यावसायिक पहल के माध्यम से हम प्रतिस्पर्धी खुदरा क्षेत्र में छोटे और स्वतंत्र व्यवसायों की निरंतर सफलता के लिए उनको एक अधिक समान स्तरीय अवसर की सुविधा प्रदान करने में मदद करते हैं।"


 


डिजिटल शॉप ऐप पहल मेट्रो के मौजूदा स्मार्ट किराना कार्यक्रम के साथ तालमेल में है जो पारंपरिक परिवेश वाले स्‍टोर को खुले और आधुनिक स्वरूप वाले स्टोरों में डिजिटल रूप में बदलने और रूपांतरित करने के उद्देश्य से काम करता है ताकि वे प्रतिस्‍पर्धी माहौल में सफल हो सकें। स्मार्ट किराना कार्यक्रम के अंतर्गत, मेट्रो ने अब तक देश भर में 500 से अधिक किरानों के आधुनिकीकरण का काम किया है। हालांकि, नवीनतम पहल नए-पुराने प्रौद्योगिकियों, डेटा विज्ञान और थोक खुदरा व्‍यवसाय के वर्षों के संपूर्ण अनुभव को एक सरल-से-उपयोग वाले डिजिटल पेशकश से जोड़ती है।


 


साझेदारी के बारे में बताते हुए, ईपेलेटर के सह-संस्थापक, श्री अक्षत सक्सेना ने कहा कि मेट्रो कैश एंड कैरी के साथ, हम प्रौद्योगिकी और एनालिटिक्‍स का लाभ उठाते हुए विभिन्न पद्धतियों का सह-निर्माण करने की कोशिश कर रहे हैं जिनको किराना व्‍यवसायी और एसएमई अपने कारोबार को अधिक कुशलता और लाभप्रद रूप से संचालित करने में उपयोग कर सकते हैं। हमें मेट्रो के साथ तालमेल बनाने में आसानी हुई है और हमारा नजरिया भी छोटे तथा स्वतंत्र किराना व्यवसायों को सशक्त बनाने का है, क्‍योंकि हम मानते हैं कि वे देश में उद्यमिता की संस्कृति को बढ़ावा देते हैं। हम अगले कुछ महीनों में भारत के अन्‍य क्षेत्रों में इस कार्यक्रम को बढ़ाने के लिए उत्साहित हैं।


 


डिजिटल शॉप का हिस्सा बनने के लिए, किराना व्‍यवसायी और व्यापारी गूगल प्‍ले स्टोर से ऐप डाउनलोड कर सकते हैं या लिंक पर क्लिक कर सकते हैं- https://play.google.com/store/apps/details?id=in.epaylater.android.retailer.upi&hl=en_IN&showAllReviews=false  


 


2003 में भारत में अपने प्रवेश के बाद से, मेट्रो ने छोटे और मध्यम उद्यमों (एसएमई) के बीच मजबूत ब्रांड इक्विटी का निर्माण किया है और उन्हें देश भर में अपने 27 मेट्रो होलसेल स्टोर्स के व्यापक नेटवर्क के माध्यम से अपने व्यवसाय को महत्वपूर्ण रूप से विकसित करने के लिए एक मंच प्रदान किया है। आज मेट्रो ने 5000 से अधिक आपूर्तिकर्ताओं के लिए 3 मिलियन व्यापार ग्राहकों का एक ग्राहक आधार बनाया है, और पूरे देश में 14,000 प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष नौकरियों का निर्माण किया है।


About METRO Cash & Carry


METRO Cash & Carry operates in 26 countries over 760 wholesale markets with about 105,000 employees worldwide. In financial year 2017/18 it generated sales of about €29.5 billion. METRO Cash & Carry is a leading international wholesale company with food and non-food assortments that specializes on serving the needs of hotels, restaurants and caterers (HoReCa) as well as independent traders. Around the world, METRO has some 24 million customers who can choose whether to shop in  one of the large-format stores, order online and collect their purchases at the store or have them  delivered. METRO in addition also supports the competitiveness of entrepreneurs and own businesses  with digital solutions and thereby contributes to cultural diversity in retail and hospitality. METRO Cash & Carry is the wholesale division of METRO that operates in 36 countries and employs more than 150,000  people worldwide. In financial year 2017/18, METRO generated sales of €36.5 billion.


METRO Cash & Carry entered the Indian market in 2003. The company currently operates twenty-seven wholesale distribution centers under the brand METRO Wholesale including six in Bangalore, four in Hyderabad, two each in Mumbai and Delhi, and one each in Kolkata, Jaipur, Jalandhar, Zirakpur, Amritsar, Vijayawada, Ahmedabad, Surat, Indore, Lucknow, Meerut, Nasik and Ghaziabad.  For further information, log on to www.metro.co.in


 


Contact: press@metro.co.in ; metro@sixdegreespr.co.in


               


About ePayLater


 


Founded in December 2015 and based in Mumbai, ePayLater is a digital payment solution offered by Arthashastra Fintech Pvt. Ltd. that enables a "Buy Now, Pay Later" solution for frequent online purchases with an interest-free credit term of 14 days. We are recognized as a start-up by the Department of Industrial Policy and Promotion of the Government of India's Ministry of Commerce. We are a team of dynamic professionals to optimize the digital payment experience and make it seamless, reliable and secure. We take pride in our aim to bridge the credit divide that exists in India today. For further information, log on to www.epaylater.in


Contact strategy@epaylater.in , founders@epaylater.in


Popular posts from this blog

छतरपुर जिला चिकित्सालय को मिलेअत्याधुनिक जांच उपकरण एस्सेल माइनिंग द्वारा सी-आर्म, रक्त जांच एवं अन्य उपकरण दान

 छतरपुर की स्वास्थ्य अधोसंरचना को मजबूत बनाने के ध्येय को आगे बढ़ाते हुए एस्सेल माइनिंग द्वारा शुक्रवार को छतरपुर जिला चिकित्सालय में अत्याधुनिक सी-आर्म इमेजिंग डिवाइस, हाई फ़्लो नैज़ल कैनुला समेत त्वरित रक्त जांच उपकरण एवं मोरचुरी फ्रीजर भेंट किया गया।  जिला कलेक्टर श्री संदीप जी आर ने फीता काटकर नई सुविधाओं का शुभारंभ किया। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ विजय पथोरिया एवं अस्पताल के अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे। नए उपकरणों के साथ छतरपुर जिला चिकित्सालय के सुविधाओं में वृद्धि होने के साथ ही हजारों नागरिकों को नई जाँचों का लाभ मिल सकेगा और त्वरित जांच प्राप्त हो सकेगी।कलेक्टर श्री श्री संदीप जी आर द्वारा इस अवसर पर अस्पताल परिसर में पौधा रोपण भी किया गया।  एस्सेल माइनिंग द्वारा लगातार छतरपुर जिले की स्वास्थ्य सेवाओं को उन्नत बनाने में सतत योगदान दिया जा रहा है। पूर्व में गुरुवार को कंपनी द्वारा बक्सवाहा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को बड़ा मलहरा विधायक श्री प्रद्युम्न सिंह लोधी की उपस्थिति में एडवांस्ड लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस भेंट की गई। वेंटीलेटर जैसी सुविधाओं के सा

*Reusable pads essential to make menstrual hygiene sustainable for all women and girls*

 If every woman and girl of menstruating age in India used disposable pads, 38,500,000,000 used pads would be discarded every month – an environmental disaster since each of these would take 500-800 years to degrade naturally XXX / May 26, 2021: Considering the immense non-biodegradable waste generated by disposable sanitary pads every month, sustainable menstrual hygiene in India can be achieved only with reusable pads made of organic material, said Anju Bist, Co-Director, Amrita SeRVe (Self Reliant Village) Program of Mata Amritanandamayi Math. Known as the “Pad Woman” of India for her zeal in promoting the use and reuse of sanitary pads made of cloth and banana fibre, she is the co-creator of Saukhyam Reusable Pads which have been awarded as the "Most Innovative Product" by the National Institute of Rural Development, Hyderabad. The pads were also lauded at the UN Climate Change Conference held in Poland in 2018. Said Anju Bist: “There are 355 million menstruating women an

*GLENEAGLES GLOBAL HEALTH CITY PERFORMS WORLD’S SECOND SUCCESSFUL PEDIATRIC COMBINED LIVING DONOR LIVER AND KIDNEY TRANSPLANT FOR A RARE GENETIC LIVER DISORDER*

 12-year-old boy with rare liver disease undergoes successful multi-organ transplant making him the 2nd case in the world and 1st in the country Chennai, 7th December, 2021: Gleneagles Global Health City (GGHC), a leading multi-organ transplant centre in Asia, successfully performed India’s first live donor liver and kidney transplant on a 12-year-old who was suffering from a rare genetic disorder – Primary Hyperoxaluria type 2. Master Anish*, a 12-year-old, was referred from Bangalore with renal failure and had been on dialysis three times a week. Doctors in Bangalore had diagnosed him with a rare genetic disorder called Primary Hyperoxaluria (PH) type- II, which is a liver condition that results in accumulation of oxalate in the kidneys, heart and bones and other organ systems of the body. As the disease is primarily based in the liver, these patients need combined liver and kidney transplantation for cure which is a major undertaking, especially in a child.  Across the world, there