Skip to main content

ह्यूज ग्लोबल एजुकेशन ने ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन फॉर डायरेक्ट टू इंस्टीट्यूट पाठ्यक्रमों के साथ साझेदारी की घोषणा की


बेहतर रोजगार के अवसरों के लिए स्नातक छात्रों को भविष्‍य के कौशल के साथ सक्षम बनाने का लक्ष्‍य


 


सितंबर, 2019: ऑनसाइट सीखने के एक प्रमुख मंच, ह्यूज ग्लोबल एजुकेशन इंडिया, ने आज ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन [एआईएमए] के साथ अपनी साझेदारी की घोषणा की। इस सहयोग का उद्देश्य डेटा एलालिसिस और डिजिटल मार्केटिंग के व्‍यावसायिक पाठ्यक्रमों के जरिये प्रबंधन के छात्रों के कौशल और योग्यता को बढ़ाना है।


 


डायरेक्ट टू इंस्टीट्यूट [डीटीआई] पाठ्यक्रमों का नया सेट सबसे पहले ह्यूज इंटरएक्टिव ऑनसाइट लर्निंग (आईओएल) प्लेटफॉर्म पर उपलब्‍ध कराया जाएगा। डीटीआई शिक्षण, संस्थानों को अनुकूलित शिक्षण वातावरण की पहचान करने और उसे तैयार करने का अवसर प्रदान करता है, जिससे कि छात्रों को विशिष्ट कौशल प्रदान किया जा सके। इस नई पहल के साथ, प्री-फाइनल और फाइनल वर्ष के छात्र संस्थान से लाइव ऑनलाइन कक्षाओं में भाग लेकर डेटा एनालिसिस और डिजिटल मार्केटिंग के व्‍यावसायिक कौशल सीखेंगे।


 


आसान और व्‍यवस्‍थित मॉड्यूल में तैयार किये गये ये कार्यक्रम, छात्रों को डिजिटल युग में कामयाब होने के लिए पाठ्यक्रम की बुनियादी बातों, उन्नत अनुप्रयोगों, नवीनतम रणनीतियों और व्यवसाय मॉडल को समझने में मदद करेंगे। कोर्स पूरा होने पर योग्य उम्मीदवारों को प्लेसमेंट सहायता और इंटर्नशिप उपलब्‍ध करायी जायेगी।


 


साझेदारी पर टिप्पणी करते हुए, प्रोफेसर राज अग्रवाल, निदेशक, सेंटर फॉर मैनेजमेंट एजुकेशन, एआईएमए ने कहा कि  'एआईएमए का उद्देश्य छात्रों को गुणवत्तापूर्ण प्रबंधन संबंधी शिक्षा तक पहुंच बनाने और उनके कौशल को निखारने में मदद करना है। उद्योग की मांगों को ध्यान में रखते हुए, हम वास्तविक समय और उभरते उद्योग की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए, नए पाठ्यक्रम डिजाइन करने और पाठ्यक्रम को एकीकृत करने को लेकर उत्साहित हैं। डायरेक्ट टू इंस्टीट्यूट शिक्षण के साथ, यह साझेदारी छात्रों को गुणवत्ता और लचीलेपन के अनूठे मिश्रण के जरिये कॅरियर में अपने प्रबंधकीय कौशल का उपयोग करने में सक्षम बनाने में मदद करेगी।'


 


ह्यूज ग्लोबल एजुकेशन के वरिष्‍ठ निदेशक, अनुराग बंसल ने कहा कि हम एआईएमए के साथ साझेदारी करके खुश हैं। इस साझेदारी से हम अपने भावी कर्मचारियों के रोजगार को लेकर तैयार रहने के मामले में सुधार कर पाने सक्षम होंगे। बढ़ती जा रही डिजिटल दुनिया में, उद्योग क्षेत्र में ऐसे चुस्त युवा पेशेवरों की तलाश में तेजी आयी है जिनमें आगे आने वाली की चुनौतियों से निपटने के लिए भरपूर पेशेवर कौशल है।


 


आज, डेटा एनालिटिक्स और डिजिटल मार्केटिंग का उपयोग व्यापक रूप से हेल्‍थकेयर, शिक्षा, आईटी सरकार, खुदरा, ई-कॉमर्स, मीडिया, मैन्‍युफैक्‍चरिंग और सेवा उद्योग में किया जाता है। हमें पूरा विश्वास है कि ये कार्यक्रम आशाजनक रोजगार के अवसरों के मामले में स्नातक छात्रों को आगे बनाये रखेंगे।


 


उद्योग की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए तैयार, एआईएमए ने डेटा विज्ञान और डिजिटल मार्केटिंग में एकीकृत कार्यक्रम तैयार किए हैं, जो छात्रों को पेशेवर कौशल और विशिष्ट पाठ्यक्रमों तक पहुंच बनाने का अवसर प्रदान करते हैं। दोनों पाठ्यक्रम व्यावहारिक ज्ञान प्रदान करेंगे और आवश्यक कौशल के साथ तैयार होने के लिए छात्रों को वास्तविक केस स्‍टडीज की जानकारी देंगे।


 


डेटा एनालिटिक्स प्रोग्राम में पांच मॉड्यूल है, जिसमें बिग डेटा का परिचय, आर प्रोग्रामिंग का उपयोग करते हुए बेसिक और एडवांस एनालिटिक्स का परिचय और टेब्‍ल्‍यू के साथ डेटा विज़ुअलाइज़ेशन में विशेषता शामिल है। डिजिटल मार्केटिंग पाठ्यक्रम में सात मॉड्यूल होंगे, जिसमें सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन और मार्केटिंग का परिचय, सोशल मीडिया मार्केटिंग टूल्स, वेब एनालिटिक्स और वेब डिजाइनिंग और कई अन्‍य शामिल हैं। कार्यक्रम छात्रों को डिजिटल व्यवसाय, डिजिटल मार्केटिंग प्रक्रिया और ऑनलाइन प्रतिष्ठा प्रबंधन की मूल बातें सीखने में सक्षम करेगा।


 


इच्छुक संस्थान और छात्र पाठ्यक्रम सामग्री, फैकल्‍टी और सर्टिफिकेशन के बारे में अधिक जानकारी के लिए वेबसाइट  ह्यूज ग्‍लोबल एजुकेशन को देख सकते हैं।


 


###





About Hughes Global Education India


Hughes Global Education India Ltd (HGEIL) is a wholly owned subsidiary of Hughes Communications India Ltd (HCIL) which is India's leading provider of broadband networks and a majority owned subsidiary of Hughes Network Systems, LLC. HGEIL provides the Hughes Interactive Onsite Learning platform for satellite- based education and training for working professionals/students. Delivered over a live, interactive, real-time, two-way video, voice and data platform, it is available today in 70 classrooms in 30 odd cities. HGEIL has redefined the next generation of education, i.e. the real-time Interactive Onsite Learning platform. Started in 2001and the first of its kind in India, this platform seamlessly integrates the strengths of traditional methods of education—classroom teaching—with the latest in technology.For additional information, please visit www.hugheseducation.com and follow @hughes-global-education on LinkedIn @EducationHughes on Twitter.


 


About AIMA


All India Management Association (AIMA) is the apex body for management in India with over 37000 members and close to 6000 corporate /institutional members through 68 Local Management Associations affiliated to it. AIMA was formed over 60 years ago and is a non-lobbying, not for profit organisation, working closely with industry, Government, academia and students, to further the cause of the management profession in India.


Popular posts from this blog

छतरपुर जिला चिकित्सालय को मिलेअत्याधुनिक जांच उपकरण एस्सेल माइनिंग द्वारा सी-आर्म, रक्त जांच एवं अन्य उपकरण दान

 छतरपुर की स्वास्थ्य अधोसंरचना को मजबूत बनाने के ध्येय को आगे बढ़ाते हुए एस्सेल माइनिंग द्वारा शुक्रवार को छतरपुर जिला चिकित्सालय में अत्याधुनिक सी-आर्म इमेजिंग डिवाइस, हाई फ़्लो नैज़ल कैनुला समेत त्वरित रक्त जांच उपकरण एवं मोरचुरी फ्रीजर भेंट किया गया।  जिला कलेक्टर श्री संदीप जी आर ने फीता काटकर नई सुविधाओं का शुभारंभ किया। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ विजय पथोरिया एवं अस्पताल के अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे। नए उपकरणों के साथ छतरपुर जिला चिकित्सालय के सुविधाओं में वृद्धि होने के साथ ही हजारों नागरिकों को नई जाँचों का लाभ मिल सकेगा और त्वरित जांच प्राप्त हो सकेगी।कलेक्टर श्री श्री संदीप जी आर द्वारा इस अवसर पर अस्पताल परिसर में पौधा रोपण भी किया गया।  एस्सेल माइनिंग द्वारा लगातार छतरपुर जिले की स्वास्थ्य सेवाओं को उन्नत बनाने में सतत योगदान दिया जा रहा है। पूर्व में गुरुवार को कंपनी द्वारा बक्सवाहा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को बड़ा मलहरा विधायक श्री प्रद्युम्न सिंह लोधी की उपस्थिति में एडवांस्ड लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस भेंट की गई। वेंटीलेटर जैसी सुविधाओं के सा

*GLENEAGLES GLOBAL HEALTH CITY PERFORMS WORLD’S SECOND SUCCESSFUL PEDIATRIC COMBINED LIVING DONOR LIVER AND KIDNEY TRANSPLANT FOR A RARE GENETIC LIVER DISORDER*

 12-year-old boy with rare liver disease undergoes successful multi-organ transplant making him the 2nd case in the world and 1st in the country Chennai, 7th December, 2021: Gleneagles Global Health City (GGHC), a leading multi-organ transplant centre in Asia, successfully performed India’s first live donor liver and kidney transplant on a 12-year-old who was suffering from a rare genetic disorder – Primary Hyperoxaluria type 2. Master Anish*, a 12-year-old, was referred from Bangalore with renal failure and had been on dialysis three times a week. Doctors in Bangalore had diagnosed him with a rare genetic disorder called Primary Hyperoxaluria (PH) type- II, which is a liver condition that results in accumulation of oxalate in the kidneys, heart and bones and other organ systems of the body. As the disease is primarily based in the liver, these patients need combined liver and kidney transplantation for cure which is a major undertaking, especially in a child.  Across the world, there

World Human Rights Day 2021: आज है विश्व मानवाधिकार दिवस, बारीकी से जानें अपने अधिकारआज मानवाधिकार दिवस मनाया जा रहा है. वर्ष 1950 में संयुक्त राष्ट्र ने हर वर्ष 10 दिसंबर को 'विश्व मानवाधिकार दिवस' मनाना तय किया.

 आज विश्व भर में मानवाधिकार दिवस (World Human Rights Day 2021) मनाया जा रहा है. 10 दिसंबर, 1948 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने विश्व मानवाधिकार घोषणा पत्र जारी कर प्रथम बार मानवों के अधिकार के बारे में बात रखी थी. वर्ष 1950 में संयुक्त राष्ट्र ने हर वर्ष 10 दिसंबर को 'विश्व मानवाधिकार दिवस' मनाना तय किया.क्या है 'मानव अधिकार'किसी भी इंसान की जिंदगी, आजादी, बराबरी और सम्मान का अधिकार है मानवाधिकार (World Human Rights Day 2021) है. भारतीय संविधान इस अधिकार की न सिर्फ गारंटी देता है, बल्कि इसे तोड़ने वाले को अदालत सजा देती है. भारत में 28 सितंबर 1993 से मानव अधिकार कानून अमल में आया. 12 अक्‍टूबर, 1993 में सरकार ने राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग का गठन किया. World Human Rights Day २०२१ पर राजनेताओं और दिग्गज नामी हस्तियों ने अपने विचार साँझा किये सोशल मीडिया प्लेटफार्म कू पर स्वाति सिंह, कहती है - एकता,सामाजिक-आर्थिक नवीनीकरण और राष्ट्रनिर्माण!!! प्रत्येक व्यक्ति को जाति,धर्म,लिंग,भाषा,राष्ट्रीयता,नस्ल या किसी अन्य आधार पर भेदभाव किए बिना समानता के साथ जीवन जीने का अधिकार है और #