कोका-कोला इंडिया ने लॉन्‍च किया वियो (VIO) स्पाइस्ड बटरमिल्क   इस नये ताजगी देने वाले उत्पाद से गर्मी को दूर भगाइये


 


इस नये ताजगी देने वाले उत्पाद से गर्मी को दूर भगाइये 


 


 


 


· घर की बनी छाछ का पारंपरिक स्वाद एक सुविधाजनक और किफायती फॉर्मेट में उपलब्‍ध 


 


· उपभोक्ता वियो स्पाइस्ड बटरमिल्क को घर बैठे प्रमुख ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म्स के माध्यम से खरीद सकते हैं


 


 


 


जून 2020: कोका-कोला इंडिया ने इस बार गर्मी को दूर भगाने के लिये अपने डेयरी बेवरेज ब्राण्ड वियो (VIO) के अंतर्गत तरोताजा करने वाले मसाला छाछ (स्‍पाइस्‍ड बटरमिल्‍क) को पेश किया है।  दही से बने वियो स्पाइस्ड बटरमिल्क में पारंपरिक घर की बनी छाछ की शुद्धता और मसाले मौजूद हैं। इस प्रकार यह भारतीय उपभोक्ताओं के लिये बिल्‍कुल उपयुक्त है। इस उत्पाद में कोई प्रिजर्वेटिव या रंग नहीं मिलाया गया है। यह 15 रुपये की आकर्षक कीमत पर 180 एमएल की सुविधाजनक एसेप्टिक पैकेजिंग में आता है। 


 


 


 


वियो स्पाइस्ड बटरमिल्क के साथ कोका-कोला के मौजूदा बेवरेजेज पोर्टफोलियो का विस्तार किया गया है, ताकि उपभोक्ताओं को और अधिक विकल्प मिलें। वियो स्पाइस्ड बटरमिल्क की पेशकश कंपनी की हाइपर-लोकल रणनीति का हिस्सा है, जो भारत में स्थानीयकृत उत्पादों के विकास पर केन्द्रित है, और यह इस क्षेत्र के उपभोक्ताओं की पसंद से मेल खाती है।


 


 


 


भारत में उभरती बटरमिल्क कैटेगरी के बारे में विजय परशुरामन, वाइस प्रेसिडेन्ट- मार्केटिंग, कोका कोला इंडिया एवं दक्षिण पश्चिम एशिया ने कहा, ‘‘भारत डेयरी उत्‍पादन और इसका उपयोग करने में दुनिया का सबसे बड़ा बाजार है। हमारे इतिहास में डेयरी उत्पाद हमारी संस्कृति के साथ विकसित हुए हैं जो हमारे स्‍वाद और व्‍यंजनों के अनुकूल हैं। और बटरमिल्‍क (छाछ) इन उत्पादों में अनूठा है। यह अपने स्‍वाद और सामग्रियों में वर्सेटाइल है और देश के हर क्षेत्र में इसे अपनाया गया है। आज के उपभोक्ताओं को फंक्शनल बेवरेजेस चाहिये और वियो स्पाइस्ड बटरमिल्क हमारी ऐसी पेशकश है। यह बटरमिल्‍क पीने वालों को न सिर्फ तरोताजा करेगी बल्कि उन्‍हें पोषण की दैनिक खुराक भी देगी। यह लॉन्च स्‍पाइस्‍ड बटरमिल्‍क के जादू को दोबारा पैदा करने का हमारा प्रयास है जोकि कुछ निश्चित स्‍वादों को आकर्षित करता है।’’


 


 


 


इस लॉन्च के पीछे के इनोवेशन की बात करते हुए सुनील गुलाटी, वाइस प्रेसिडेन्ट, टेक्निकल एंड सप्लाय चेन, कोका-कोला इंडिया एवं दक्षिण पश्चिम एशिया ने कहा, ‘‘हमारा लक्ष्‍य एक स्‍थानीयकृत और ग्राहक-केंद्रित पोर्टफोलियो बनाना है और इसके लिए हम नए-नए उत्‍पादों को लाने पर जोर देते हैं। डेयरी एक ऐसी कैटेगरी है जिसकी जड़ें भारतीय परंपरा से गहराई से जुड़ी हैं। कई सदियों से इसका सेवन एक रिफ्रेशमेंट या फिर एक डाइजेस्टिव ड्रिंक के तौर पर किया जा रहा है। देश के हर कोने में मौजूद लोग इसे बहुत पंसद करते हैं। वियो स्‍पाइस्‍ड बटरमिल्‍क के लॉन्‍च के साथ हमारा इरादा उन लोगों के लिए कुछ बनाने का था जहां हम काम करते हैं। इसके लिए हमने देश के स्‍थानीय फ्‍लेवर्स को अपनाया और अपने बेवरेज पोर्टफोलियो का विस्‍तार किया ताकि अपने उपभोक्‍ताओं को उनकी पसंद का पेय प्रदान कर सकें।” 


 


 


 


कोका-कोला कंपनी के बेवरेज पोर्टफोलियो की प्रमुख पेशकश, वियो को कोका-कोला इंडिया ने साल 2016 में पेश किया था। कंपनी का इरादा उपभोक्ताओं के लिये एक रेडी-टु-ड्रिंक, वैल्‍यू-एडेड डेयरी बेवरेज का विकल्प तैयार करना था। 


 


 


 


वियो स्पाइस्ड बटरमिल्क को घर बैठे प्रमुख ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म्स के जरिये ऑर्डर किया जा सकता है। यह दिल्ली और चेन्नई के स्टोर्स और ओडिशा, आंध्र प्रदेश, गोवा और महाराष्ट्र के प्रमुख शहरों में भी उपलब्ध होगा।


 


 


 


कोका-कोला इंडिया के विषय में


 


कोका-कोला इंडिया देश की अग्रणी पेय कंपनियों में से एक है, जो उपभोक्ताओं के लिये स्वास्थ्यवर्द्धक, सुरक्षित, उच्च गुणवत्ता के, तरोताजा करने वाले पेय विकल्पों की पेशकश करती है। वर्ष 1993 में अपने पुनःप्रवेश के बाद से कंपनी पेय उत्पादों से उपभोक्ताओं को तरोताजा कर रही है, जैसे कोका-कोला, कोका-कोला ज़ीरो, डाइट कोक, थम्स अप, थम्स अप चार्ज्ड, थम्स अप चार्ज्ड नो शुगर, फ़ैंटा, लिम्का, स्प्राइट, माज़ा, वियो “फ्लेवर्ड मिल्क”, मिनट मेड रेन्ज ऑफ ज्यूसेस, मिनट मेड स्मूथी और मिनट मेड विटिंगो, हॉट और कोल्ड चाय और कॉफी विकल्‍पों की जॉर्जिया श्रृंखला, एक्वैरियस और एक्वैरियस ग्लूकोचार्ज, श्वीप्‍स, स्मार्ट वाटर, किनले और बोनएक्वा पैकेज्ड ड्रिंकिंग वाटर और किनले क्लब सोडा। कंपनी अपने खुद के बॉटलिंग परिचालन और अन्य बॉटलिंग पार्टनर्स के साथ, करीब 2.6 मिलियन रिटेल दुकानों के मजबूत नेटवर्क के माध्यम से करोड़ों उपभोक्ताओं के जीवन का हिस्सा बन चुकी है, जिसकी प्रति सेकंड 500 सर्विंग्स की दर है। इसके ब्राण्ड देश में सबसे चहेते और सबसे अधिक बिकने वाले पेयों में शुमार हैं- थम्स अप और स्प्राइट, सबसे अधिक बिकने वाले दो स्पार्कलिंग पेय हैं।  


 


 


 


कोका-कोला इंडिया का सिस्टम 25,000 लोगों को प्रत्यक्ष और 150,000 से अधिक लोगों को अप्रत्यक्ष रोजगार देता है। भारत में कोका-कोला सिस्टम सामुदायिक पहलों के माध्यम से स्थायी समुदाय निर्मित करने में छोटा-सा योगदान दे रहा है, जैसे सपोर्ट माय स्‍कूल, वीर, परिवर्तन, और उन्नति और कंपनी पर्यावरण पर अपने द्वारा होने वाले प्रभाव को स्वयं कम करती है।


 


 


 


भारत में कंपनी के परिचालन और उत्पादों के सम्बंध में अधिक जानकारी के लिये कृपया www.coca-colaindia.com  और www.hindustancoca-cola.com देखें। हमें ट्विटर पर twitter.com/CocaCola_Ind पर और फेसबुक पर फॉलो करें।


Popular posts from this blog

Trending Punjabi song among users" COKA" : Sukh-E Muzical Doctorz | Alankrita Sahai | Jaani | Arvindr Khaira | Latest Punjabi Song 2019

कोरोना योद्धा ने किया सराहनीय कार्यl

*Aakash Institute Student Akanksha Singh from Kushinagar (UP) Secures AIR 2nd Nationally in the NEET 2020 Examination; Scores Highest ever marks in NEET’s history, Top Score at National Level, Becomes Inspiration for many Girls in Purvanchal*