Skip to main content

*Punjab National Bank celebrates National Small Industry Day*

Supports small scale industries by offering ‘PNB Seva’ scheme


 



New Delhi: Punjab National Bank, India’s second-largest public sector lender celebrates small Industry Day by offering PNB Seva Scheme, to provide adequate funding to the small-scale industries enabling them to meet their working capital requirements in these unprecedented times. The scheme offers need-based financing through working capital (CC/ OD as applicable), Term Loan, and Non fund based limit to the small scale industries.


 


SMEs and MSMEs are value-generating engines of the economy. They contribute to the GDP, create employment opportunities, and play a vital role in exports. In these unprecedented times and due to prolonged lockdowns, this segment has been the hardest hit. As India’s 2nd largest public sector bank, PNB stands strong to ensure SMEs and MSMEs get financial support and don’t face difficulties in gaining access to affordable and timely credit. PNB Seva scheme is a major step in that direction. PNB has been serving this sector since inception, understanding their requirements, and providing customize solutions. Post the merger, PNB’s reach has widened thereby providing services to the remote areas of the country.


 


Under the scheme, the loan can be availed for acquiring fixed assets like land, office/workplace building, equipments & infrastructure and it can also be availed in case of existing units, expansion of existing offices/workplace and renovation/ modernization to improving the quality or reducing the service cost. The loan can be repaid up to 7 years including moratorium period of maximum up to 6 months. All Individuals / Partnership / Limited Liability Partnership (LLP) / Private Ltd. Co. / Public Ltd. Co/Trust/ Societies & Co-operative Societies (registered and incorporated under applicable law) and enterprises are eligible to be a benefit for this scheme.


Popular posts from this blog

छतरपुर जिला चिकित्सालय को मिलेअत्याधुनिक जांच उपकरण एस्सेल माइनिंग द्वारा सी-आर्म, रक्त जांच एवं अन्य उपकरण दान

 छतरपुर की स्वास्थ्य अधोसंरचना को मजबूत बनाने के ध्येय को आगे बढ़ाते हुए एस्सेल माइनिंग द्वारा शुक्रवार को छतरपुर जिला चिकित्सालय में अत्याधुनिक सी-आर्म इमेजिंग डिवाइस, हाई फ़्लो नैज़ल कैनुला समेत त्वरित रक्त जांच उपकरण एवं मोरचुरी फ्रीजर भेंट किया गया।  जिला कलेक्टर श्री संदीप जी आर ने फीता काटकर नई सुविधाओं का शुभारंभ किया। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ विजय पथोरिया एवं अस्पताल के अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे। नए उपकरणों के साथ छतरपुर जिला चिकित्सालय के सुविधाओं में वृद्धि होने के साथ ही हजारों नागरिकों को नई जाँचों का लाभ मिल सकेगा और त्वरित जांच प्राप्त हो सकेगी।कलेक्टर श्री श्री संदीप जी आर द्वारा इस अवसर पर अस्पताल परिसर में पौधा रोपण भी किया गया।  एस्सेल माइनिंग द्वारा लगातार छतरपुर जिले की स्वास्थ्य सेवाओं को उन्नत बनाने में सतत योगदान दिया जा रहा है। पूर्व में गुरुवार को कंपनी द्वारा बक्सवाहा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को बड़ा मलहरा विधायक श्री प्रद्युम्न सिंह लोधी की उपस्थिति में एडवांस्ड लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस भेंट की गई। वेंटीलेटर जैसी सुविधाओं के सा

*GLENEAGLES GLOBAL HEALTH CITY PERFORMS WORLD’S SECOND SUCCESSFUL PEDIATRIC COMBINED LIVING DONOR LIVER AND KIDNEY TRANSPLANT FOR A RARE GENETIC LIVER DISORDER*

 12-year-old boy with rare liver disease undergoes successful multi-organ transplant making him the 2nd case in the world and 1st in the country Chennai, 7th December, 2021: Gleneagles Global Health City (GGHC), a leading multi-organ transplant centre in Asia, successfully performed India’s first live donor liver and kidney transplant on a 12-year-old who was suffering from a rare genetic disorder – Primary Hyperoxaluria type 2. Master Anish*, a 12-year-old, was referred from Bangalore with renal failure and had been on dialysis three times a week. Doctors in Bangalore had diagnosed him with a rare genetic disorder called Primary Hyperoxaluria (PH) type- II, which is a liver condition that results in accumulation of oxalate in the kidneys, heart and bones and other organ systems of the body. As the disease is primarily based in the liver, these patients need combined liver and kidney transplantation for cure which is a major undertaking, especially in a child.  Across the world, there

World Human Rights Day 2021: आज है विश्व मानवाधिकार दिवस, बारीकी से जानें अपने अधिकारआज मानवाधिकार दिवस मनाया जा रहा है. वर्ष 1950 में संयुक्त राष्ट्र ने हर वर्ष 10 दिसंबर को 'विश्व मानवाधिकार दिवस' मनाना तय किया.

 आज विश्व भर में मानवाधिकार दिवस (World Human Rights Day 2021) मनाया जा रहा है. 10 दिसंबर, 1948 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने विश्व मानवाधिकार घोषणा पत्र जारी कर प्रथम बार मानवों के अधिकार के बारे में बात रखी थी. वर्ष 1950 में संयुक्त राष्ट्र ने हर वर्ष 10 दिसंबर को 'विश्व मानवाधिकार दिवस' मनाना तय किया.क्या है 'मानव अधिकार'किसी भी इंसान की जिंदगी, आजादी, बराबरी और सम्मान का अधिकार है मानवाधिकार (World Human Rights Day 2021) है. भारतीय संविधान इस अधिकार की न सिर्फ गारंटी देता है, बल्कि इसे तोड़ने वाले को अदालत सजा देती है. भारत में 28 सितंबर 1993 से मानव अधिकार कानून अमल में आया. 12 अक्‍टूबर, 1993 में सरकार ने राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग का गठन किया. World Human Rights Day २०२१ पर राजनेताओं और दिग्गज नामी हस्तियों ने अपने विचार साँझा किये सोशल मीडिया प्लेटफार्म कू पर स्वाति सिंह, कहती है - एकता,सामाजिक-आर्थिक नवीनीकरण और राष्ट्रनिर्माण!!! प्रत्येक व्यक्ति को जाति,धर्म,लिंग,भाषा,राष्ट्रीयता,नस्ल या किसी अन्य आधार पर भेदभाव किए बिना समानता के साथ जीवन जीने का अधिकार है और #