श्रीराम सुपर 111 गेहूँ बीज से मध्यप्रदेश के किसानों की गेहूँ उत्पादकता बढ़ी

इंदौर, सितम्बर 2020: मध्यप्रदेश के किसानों ने बताया कि डीसीएम श्रीराम लिमिटेड की युनिट श्रीराम फार्म सोल्यूशन्स की ओर से पेश किए गए श्रीराम सुपर 111 सीड से उनकी गेहूँ उत्पादकता बढ़ी है। श्रीराम फार्म सोल्यूशन्स ने किसानों की फसल उत्पादकता बढ़ाने के लिए आधुनिक एवं अनुसंधान-उन्मुख प्रोडक्ट विकसित किए हैं।  


लॉन्च के बाद से ही श्रीराम सुपर 111 गेहूँ बीज मध्यप्रदेश के किसानों में बेहद लोकप्रिय हो रहा है। श्रीराम फ़र्टिलाइज़र्स एण्ड कैमिकल्स के विश्वविख्यात गेहूँ वैज्ञानिकों द्वारा इस किस्म को तैयार किया गया है। 


गेहूँ की अन्य किस्मों की तुलना में बेहतरीन उत्पदकता के चलते श्रीराम सुपर 111 गेहूँ बीज किसानों में बेहद लोकप्रिय हो रहा है। इसका दाना बड़ा और चमकदार होता है, इससे चारा भी ज़्यादा मिलता है, साथ ही इस गेहूँ से बनी ‘चपाती बहुत अच्छी गुणवत्ता की होती है। अपनी इन्हीं विशेषताओं के चलते श्रीराम सुपर 111 गेहूँ बीज राजस्थान, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और गुजरात के किसानों की पहली पसंद बन गया है। 


 मध्यप्रदेश के खरगांव ज़िले से एक अनुभवी किसान विजय पटेल पिछले 4 सालों से श्रीराम सुपर 111 गेहूँ बीज बो रहे हैं। पिछले साल उन्होंने अपनी 12 एकड़ ज़मीन में यही किस्म बोई और उनके खेत की औसत उत्पादकता 25 क्विंटल प्रति एकड़ रही।  


इस उत्पादन से वे बेहद खुश हैं क्योंकि उनके खेत की उत्पादकता अन्य किस्मों की तुलना में तकरीबन 3-4 क्विंटल/ एकड़ अधिक है। इससे उनका मुनाफ़ा रु 8000 प्रति एकड़ बढ़ गया है। उन्होंने बताया कि इस किस्म में बाली की लंबाई और दानों की संख्या अधिक होती है (हर बाली पर 75-90 दाने)। उनका कहना है कि श्रीराम सुपर 111 उत्पादकता और गुणवत्ता दोनों के नज़रिए से बेहतर है।   


श्रीराम सुपर 111 गेहूँ बीज बोने वाले मध्यप्रदेश के अन्य किसान भी इसी तरह की कामयाबी हासिल कर रहे हैं। भोपाल से एक और किसान तीर्थराज श्रीवास्तव पिछले 5 सालों से अपनी ज़मीन में श्रीराम सुपर 111 बो रहे हैं। वे कई किस्में उगा कर देख चुके हैं लेकिन उन्हें ऐसा उत्पादन कभी नहीं मिला। पिछले सीज़न उनकी उत्पादकता 30 क्विंटल प्रति एकड़ रहीं जो इस क्षेत्र की अन्य लोकप्रिय किस्मों की तुलना में 5-6 क्विंटल प्रति एकड़ अधिक है। उन्होंने बताया कि इसका दाना बड़ा और चमकदार है और वे इस बात से भी खुश थे कि चमकदार दाना होने के कारण श्रीराम सुपर 111 गेहूँ को मंडी में खूब पसंद किया गया।  


श्रीराम सुपर 111 मध्यप्रदेश के किसानों की पहली पसंद बन गया है। श्रीराम फार्म सोल्यूशन्स के अन्य प्रोडक्ट जैसे श्रीराम सुपर 252 और श्रीराम सुपर 303 भी पिछले कुछ सालों से अपने शानदार परफोर्मेन्स के चलते किसानों में बेहद लोकप्रिय हो रहे हैं। 


श्रीराम फार्म सोल्यूशन्स के बारे में 


श्रीराम फार्म सोल्यूशन्स 131 वर्ष पुराने डीसीएम श्रीराम लिमिटेड का एक भाग है, एक अग्रणी बिज़नेस ग्रुप जिसका टर्नओवर रु 7,767 करोड़ है। श्रीराम फार्म सोल्यूशन एग्री-इनपुट जैसे बीज, स्पेशिलिटी न्यूट्रिशन एवं फसल संरक्षण श्रेणियों के कारोबार में सक्रिय है।


Popular posts from this blog

सोनी सब के ‘काटेलाल एंड संस' में क्या गरिमा और सुशीला की सच्चाई धर्मपाल के सामने आ जाएगी

*Amrita Vishwa Vidyapeetham First Indian University to Partner with EU’s Human Brain Project*

*Meritnation registers impressive growth among Premium Users during lockdown; Clocks Four-Fold growth in Live Class Usage*