द डॉउ जोन्स सस्टेनेबिलिटी इमर्जिंग मार्केट्स इंडेक्स, 2020 के ट्रांसपोर्टेशन एवं ट्रांसपोर्टेशन इन्फ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में 14वें स्‍थान पर रहाएपीएसईज़ेड

एपीएसईज़ेडअब डीजेएसआई इमर्जिंग मार्केट्स इंडेक्स का हिस्सा है



· डॉउ जोन्स सस्टेनेबिलिटी इमर्जिंग मार्केट्स इंडेक्स के एसएएम कॉरपोरेट सस्टेनेबिलिटी असेसमेंट स्कोर कार्ड 2020 के आधार पर, अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक ज़ोन (एपीएसईज़ेड)ट्रांसपोर्टेशन एवं ट्रांसपोर्टेशन इन्फ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में 14वें स्‍थान पर रहा


 


· एपीएसईज़ेडभारत से ट्रांसपोर्टेशन एवं ट्रांसपोर्टेशन इन्फ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में एकमात्र कंपनी है और इसे डॉउ जोन्स सस्टेनेबिलिटी इंडाइसेज (डीजेएसआई) के इंडेक्‍स कम्‍पोनेंट के रूप में चुना गया है।


 


· ट्रांसपोर्टेशन एवं ट्रांसपोर्टेशन इन्फ्रास्ट्रक्चर सेक्टर उद्योग की कुल 104 कंपनियों को आमंत्रित किया गया था, जिसमें से 27 कंपनियों को उभरते बाजारों (इमर्जिंग मार्केट्स) से आमंत्रित किया गया था।


 


· एपीएसईज़ेड2025 तक कार्बन न्यूट्रल होने वाला पहला ग्‍लोबल पोर्ट बिजनेस होने की राह पर है।


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


 


अहमदाबाद, 23नवम्बर, 2020: डॉउ जोन्स सस्टेनेबिलिटी इमर्जिंग मार्केट्स इंडेक्स के नवीनतम स्कोरकार्ड ने, जिसकी काफी अपेक्षा थी, अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक ज़ोन (एपीएसईजेड) को अत्यधिक प्रतिस्पर्धी वैश्विक ट्रांसपोर्टेशन एवं ट्रांसपोर्टेशन इन्फ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में 14वें स्थान पर रखा है और भारत से इस क्षेत्र में शामिल होने वाली यह एकमात्र कंपनी है।


 


 


 


इस रैंकिंग से, डीजेएसआई इमर्जिंग मार्केट्स इंडेक्स पर एपीएसईज़ेडकी उपस्थिति की शुरुआत हुई है। डीजेएसआई इमर्जिंग मार्केट्स इंडेक्स दुनिया के सबसे अधिक लोकप्रिय सस्टेनेबिलिटी इंडेक्स में से एक है। यह इंडेक्स दुनिया के 20 उभरते बाजारों में, सबसे बड़ी 800कंपनियों में से शीर्ष 10%कंपनियों का प्रतिनिधित्व करता है, तथा पर्यावरण, सामाजिक, आर्थिक और संचालन के दीर्घकालिक मानदंडों पर आधारित है।


 


 


 


एपीएसईज़ेड के द्वारा दी गई सभी प्रतिक्रियाओं की पुष्टि, डीजेएसआई की कड़ी रेटिंग प्रक्रिया के हिस्से के रूप में, आंतरिक प्रतिक्रियाओं और वास्तविक जीवन के उदाहरणों के साथ की गई और प्रदत्त जानकारी की सटीकता को सत्यापित करने के लिए एक स्वतंत्र तीसरे पक्ष द्वारा ऑडिट किया गया था। एपीएसईज़ेडको तीन मानदंडों के प्रत्येक एकल आयाम के शीर्ष 20स्थानों में रखा गया। कुल मिलाकर, इस वर्ष सिर्फ 11 भारतीय कंपनियों ने डीजेएसआई इमर्जिंग मार्केट्स इंडेक्स में अपनी जगह बनायी थी।


 


 


 


इस अवसर परश्रीकरण अदाणी, मुख्य कार्यकारी अधिकारी और पूर्णकालिक निदेशक, एपीएसईज़ेड ने कहा कि “हमें खुशी है कि डीजेएसआई इंडेक्स में हमने प्रवेश कर लिया है। दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ते बाजारों में से एकमें, सबसे बड़े मल्टी-पोर्ट ऑपरेटर और लॉजिस्टिक्स कंपनी के रूप में, हम सामने आने वाली जटिलता को पहचानते हैं और इसलिए डीजेएसआई इंडेक्स में अपने प्रवेश के मामले में यह उच्च रैंकिंग हासिल करना, हमारे लिए एक सकारात्मक प्रेरणा की तरह है और साथ ही, हमारे निवेशकों, ग्राहकों और कर्मचारियों के प्रति हमारी जवाबदेही को मान्यता प्रदान करता है। जहां पर्यावरण, सामाजिक औरआर्थिक, और संचालन मानदंड इस बात के प्रमाण हैं कि हम सही रास्ते पर हैं, वहीं हम इसे वास्तव मेंकेवल उस महत्वाकांक्षी यात्रा में एक मोड़ के रूप में देखते हैं, जिस यात्रा को हमने सस्टेनेबिलिटी की अपनी प्रथाओं को बेंचमार्क करने के प्रति अपनी पूर्ण प्रतिबद्धता दर्शाने के लिए शुरू किया है। सस्टेनेबिलिटी की हमारी ये प्रथाएं न केवल उभरते मार्केट इंडेक्स के लिए हैं, बल्कि वर्ष 2025 तक एकमात्र कार्बन न्यूट्रल पोर्ट बनने की दिशा में आगे बढ़ते हुए, ग्लोबल इंडेक्स के लिए भी हैं।”


 


 


 


अधिकांश संस्थागत निवेशक अपने पोर्टफोलियो बनाने में डीजेएसआई का संदर्भ देते हैं, और इसे तटस्थ पक्षों द्वारा मूल्यांकन किए गए उद्देश्य, पेशेवर मानदंडों के रूप में देखा जाता है। इस रेटिंग में किया गया अच्छा प्रदर्शन निवेशकों की नजरों में कंपनी की विजिबिलिटी को बढ़ाता है, और पूंजी बाजारों तक बेहतर पहुंच प्रदान करता है, जिससे निवेशकों को अधिक लाभ मिलता है। इस वर्ष एसएएम कॉरपोरेट सस्टेनेबिलिटी असेसमेंट रिपोर्ट्स में, कॉरपोरेट सस्टेनेबिलिटी असेसमेंट के लिए 1,386कंपनियां की रिकॉर्ड सक्रिय भागीदारी देखी गयी।


 


 


 


 


 


 


 


अदाणी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक ज़ोन के बारे में


 


 


 


भारत की सबसे बड़ी एकीकृत लॉजिस्टिक्स कंपनी, अदाणी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक ज़ोन (एपीएसईजेड)विश्व स्तर पर फैले और विविध तरह के कार्यों में शामिल, अदाणी ग्रुप का एक हिस्सा है। तटीय क्षेत्रों और दूरदराज के विशाल इलाकों से कारगो के विशाल वॉल्यूम की हैंडलिंग करते हुए, रणनीतिक रूप से मौजूद एपीएसईजेड के 11 पोर्ट और टर्मिनलदेश की कुल पोर्ट क्षमता के 24% प्रतिनिधित्व करते हैं। ये पोर्ट और टर्मिनल गुजरात में मुंद्रा, दाहेज, कांडला और हजीरा, ओडिशा में धामरा, गोवा में मारमुगाओ, आंध्र प्रदेश में विशाखापत्तनम, चेन्नई में कट्टुपल्ली और एन्नोर तथा आंध्र प्रदेश में कृष्णापत्तनम में स्थित हैं। कंपनी केरल के विजिंजम में एक ट्रांसशिपमेंट पोर्ट और म्यांमार में एक कंटेनर टर्मिनल भी विकसित कर रही है।


 


हमारे "पोर्ट्स टू लॉजिस्टिक्स प्लेटफॉर्म" में हमारी पोर्ट सुविधाएं, एकीकृत लॉजिस्टिक्स क्षमताएं, और औद्योगिक आर्थिक क्षेत्र शामिल हैं, जो वैश्विक आपूर्ति श्रृंखलाओं में होने वाले संपूर्ण बदलाव से लाभ उठाने की भारम की तैयारी को देखते हुए, हमें विशेष लाभदायक स्थिति में रखते हैं। हमारी नज़र अगले दशक में दुनिया का सबसे बड़ा पोर्ट और लॉजिस्टिक्स प्लेटफॉर्म बनने पर है। 2025 तक कार्बन न्यूट्रल होने की दृष्टि से, एपीएसईज़ेडविज्ञान आधारित लक्ष्य पहल (एसबीटीआई) के लिए हस्ताक्षर करने वाला पहला भारतीय पोर्टऔर विश्व का तीसरा देश रहा,जो पूर्व-औद्योगिक स्तरों पर 1.5 डिग्री सेल्सियस तक ग्लोबल वार्मिंग को नियंत्रित करने के लिए उत्सर्जन में कमी लाने के लक्ष्य को लेकर प्रतिबद्ध है।


 


 


 


कृपया अधिक जानकारी के लिए वेबसाइटwww.adaniports.comदेखें।


Popular posts from this blog

Trending Punjabi song among users" COKA" : Sukh-E Muzical Doctorz | Alankrita Sahai | Jaani | Arvindr Khaira | Latest Punjabi Song 2019

*Aakash Institute Student Akanksha Singh from Kushinagar (UP) Secures AIR 2nd Nationally in the NEET 2020 Examination; Scores Highest ever marks in NEET’s history, Top Score at National Level, Becomes Inspiration for many Girls in Purvanchal*

कोरोना योद्धा ने किया सराहनीय कार्यl