ग्लेनमार्क ने इनोवेटर ब्रांड की तुलना में 96% कम कीमत पर सुटिब (सुनिटीनिब) लॉन्च किया। गुर्दे के कैंसर की वृद्धि के जोखिम को 58% तक कम करता है

 ओरल कैप्सूल, अत्यधिक सस्ती, ( kifayi ) 7000 रुपये (50 मिलीग्राम), 3600 रूपये (25 मिलीग्राम) और 1840 रुपये (12.5 मिलीग्राम) प्रति माह


· सुटिब (सुनिटीनिब) गुर्दे के कैंसर के लिए "गोल्ड-स्टैंडर्ड" फर्स्ट-लाइन उपचार विकल्पों में से एक है


· सुटिब यूएस एफडीए द्वारा स्वीकृत सुनिटीनिब का सामान्य संस्करण है


 


 


भारत; फरवरी, 2021: शोध-केंद्रित, वैश्विक एकीकृत फ़ार्मास्युटिकल कंपनी, ग्लेनमार्क फ़ार्मास्युटिकल्स, ने आज भारत में ग्रुर्दे के कैंसर (किडनी के कैंसर) का इलाज करने के लिए सुनिटीनबोराल कैप्सूल का सामान्य संस्करण सुटिब लॉन्च किया। दवा इनोवेटर ब्रांड की एमआरपी की तुलना में लगभग 96% कम एमआरपी पर लॉन्च की गई है, जो 7000 रूपये (50 मिलीग्राम), 3600 रुपये (25 मिलीग्राम) और 1840 रुपये (12.5 मिलीग्राम) प्रति माह है। सुनिटीनिब यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (यूएस एफ.डी.ए) द्वारा भी अनुमोदित है।


 


गुर्दे के कैंसर (रीनल सेल कार्सिनोमा) गुर्दे में छोटी नलियों के अस्तर में अनियंत्रित कोशिका वृद्धि की बीमारी है। पिछले एक दशक में, इस बीमारी के प्रतिमान (पैराडाइम) को बदलने के लिए अनुसंधान और दवा विकास में प्रगति शुरू हुई है। सुनिटीनिब एक ओरल मल्टी-किनैस इनहिबिटर (एम.के.आई) है, जो कोशिका के विकास को बढ़ावा देने वाले कई एंजाइमों को अवरुद्ध करके काम करता है। यह गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल स्ट्रोमल ट्यूमर और एडवान्स्ड रीनल सेल कार्सिनोमा के कुछ रोगियों के उपचार के लिए उपयोगी है। यह कुछ प्रकार के पैंक्रियाटिक न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर वाले रोगियों के लिए भी स्वीकृत है।


 


ग्लोबोकेन 2020 की रिपोर्ट के अनुसार, भारत में गुर्दे के कैंसर के करीब 40,000 मरीज हैं। एक दशक से अधिक समय से, सुनिटीनिब को तेजी से फैलने वाले (मेटास्टैटिक) रीनल कैंसर के मामलों में देखभाल के "गोल्ड-स्टैंडर्ड" उपचारों में से एक माना जाता है। अनुसंधान से पता चलता है कि अकेले सुनिटीनिब ने रीनल कैंसर की वृद्धि के जोखिम को 58% तक कम करने में मदद की है।3


 


लॉन्च के अवसर पर, श्री आलोक मलिक, ग्रुप वाइस प्रेसिडेंट और बिजनेस हेड, इंडिया फॉर्मूलेशन ने कहा कि “ऑन्कोलॉजी क्षेत्र पर ग्लेनमार्क विशेष ध्यान देता है। हम मानते हैं कि एडवान्स्ड किडनी कैंसर एक जटिल रोग है और भारत में रोगियों को उपचार के सीमित विकल्प मिलते हैं। ग्लेनमार्क चिकित्सकों और उनके रोगियों को प्रभावी दवाएं सस्ती लागत पर उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है।"

Popular posts from this blog

सोनी सब के ‘काटेलाल एंड संस' में क्या गरिमा और सुशीला की सच्चाई धर्मपाल के सामने आ जाएगी

*Amrita Vishwa Vidyapeetham First Indian University to Partner with EU’s Human Brain Project*

*Meritnation registers impressive growth among Premium Users during lockdown; Clocks Four-Fold growth in Live Class Usage*