तृणमूल कांग्रेस के 31 दिग्गज नेताओं ने ज्वाइन किया Koo App, जनता से जुड़ने के लिए इस स्वदेशी ऐप का करेंगे इस्तेमाल*

 इस महीने की शुरुआत में ही तृणमूल कांग्रेस (AITC) और AITC के सांसद अभिषेक बनर्जी ने भी ज्वाइन किया Koo App



नई दिल्ली: स्वदेशी माइक्रोब्लॉगिंग Koo App पर तृणमूल कांग्रेस का कुनबा बहुत तेजी से बढ़ रहा है. हाल ही में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री की पार्टी के 31 बड़े नेताओं ने Koo App ज्वाइन किया है जो ये साफ इशारा करता है कि तृणमूल कांग्रेस ने मजबूत विपक्ष बनने और सोशल मीडिया में BJP से लोहा लेने के लिए इस स्वदेशी माइक्रोब्लॉगिंग ऐप पर अपना नया ठिकाना बनाया है. अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के पहले पार्टी के इतने सारे नेताओं और कार्यकर्ताओं का Koo App ज्वाइन करना ये संकेत देता है कि पार्टी की नजर इस क्षेत्रीय भाषा वाले प्लेटफॉर्म के जरिए वोटर्स के बीच अपनी पैठ बनाने पर है. आपको बता दें कि इस महीने की शुरुआत में ही तृणमूल कांग्रेस और TMC के कद्दावर नेता अभिषेक बनर्जी ने Koo App ज्वाइन किया है जिसके बाद से ही TMC के नेताओं और समर्थकों का Koo App पर आने का सिलसिला तेज हो गया है. बताते चलें कि Koo App पर सबसे पहले भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने आना शुरू किया और उनके फॉलोअर्स काफी तेजी से बढ़े. पिछले कुछ महीनों से अन्य पार्टियों ने भी Koo App का रुख किया है और उनके फॉलोअर्स में भी बढ़ोतरी देखने को मिल रही हैं.


क्यों Koo पर TMC बढ़ा रही है कुनबा?

TMC की नजर अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों पर है. माना जा रहा है कि अगले साल विभिन्न राज्यों में होने वाले चुनावों में TMC भी अपनी किस्मत आजमा सकती है. अलग-अलग राज्यों में लोगों से जुड़ने के लिए तृणमूल कांग्रेस क्षेत्रीय भाषा के जरिए लोगों से जुड़ना चाहती है और इसलिए Koo App के जरिए अपना विस्तार कर रही है


तृणमूल कांग्रेस के दिग्गज अब Koo पर

तृणमूल कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने यूपी चुनावों के पहले इस स्वदेशी ऐप पर अपनी मौजूदगी दर्ज करा दी है. अभिषेक बनर्जी के Koo पर आने के बाद जिन 31 बड़े नेताओं ने Koo पर अपना आधिकारिक अकाउंट बनाया है उनमें मलय घटक, शोभनदेव चट्टोपाध्याय (@Aitcsobhandeb), चंद्रिमा भट्टाचार्य (@chandrimaaitc), इंद्रनील सेन (@indranilSentmc) , रथिम घोष(@rathinghoshtmc)और मनोज तिवारी (@manojtiwaryofficial) शामिल हैं. इन सब के अलावा भारी संख्या में TMC के समर्थक भी Koo पर जुड़ कर अपने नेताओं को फॉलो कर रहे हैं और बातचीत कर रहे हैं.


हिंदी यूजर्स पर है सबकी नजर

तेजी से लोकप्रिय हो रहे स्वदेशी माइक्रोब्लॉगिंग ऐप Koo ने हाल ही में ये ऐलान किया था कि उसके 1 करोड़ से ज्यादा यूजर्स हो गए हैं जिनमें से करीब आधे यूजर्स हिंदी भाषी हैं. बताते चलें कि पिछले साल ट्विटर के साथ केन्द्र सरकार के हुए मतभेद के बाद भाजपा के कई मंत्रियों ने Koo App पर अपने अकाउंट खोले थे. क्षेत्रीय भाषाओं के यूजर्स की तादाद को देखते हुए गैर-भाजपा दलों ने भी इस प्लेटफॉर्म का रुख कर लिया है.


Koo App पर लगा राजनेताओं का तांता

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ Koo App पर काफी सक्रीय हैं. अभी, पिछले कुछ हफ्ते से Koo App पर लगातार कई विपक्षी पार्टियों के बड़े नेताओं के अपने अकाउंट बनाए हैं. हाल ही में बहुजन समाज पार्टी के दिग्गज नेता व पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने भी Koo App पर अपना अकाउंट बनाया है. इसके अलावा राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता तेज प्रताप यादव ने भी Koo App ज्वाइन कर लिया है. इस स्वदेशी माइक्रोब्लॉगिग साइट पर पहले से ही आम आदमी पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी संजय सिंह, आजाद समाज पार्टी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के ओमप्रकाश राजभर, अरविंद राजभर और अरुण राजभर, अपना दल की अनुप्रिया पटेल मौजूद हैं.

Popular posts from this blog

सोनी सब के ‘काटेलाल एंड संस' में क्या गरिमा और सुशीला की सच्चाई धर्मपाल के सामने आ जाएगी

*Amrita Vishwa Vidyapeetham First Indian University to Partner with EU’s Human Brain Project*

*Meritnation registers impressive growth among Premium Users during lockdown; Clocks Four-Fold growth in Live Class Usage*